क्या सेहतवन मेडिकल संस्थान है?
नहीं, सेहतवन मेडिकल संस्थान नहीं है। यह सेहत-आयु या फ़िटनेस सुधारने के लिए एक सेल्फ-हीलिंग कम्यूनिटी स्पेस (आश्रम) है।
क्या सेहतवन नैचुरोपैथी सेंटर है?
नहीं, सेहतवन नैचुरोपैथी सेंटर नहीं है। यहाँ पर आमतौर से नैचुरोपैथी सेंटर्स में करवाए जाने वाली क्रियाएँ नहीं की जाती हैं।
क्या डा विपिन गुप्ता मेडिकल डॉक्टर हैं?
नहीं, डा विपिन गुप्ता मेडिकल डॉक्टर नहीं है। वे एम फार्म, पीएचडी हैं, दवाइयों के विशेसज्ञ (ड्रग डिस्कवरी साइंटिस्ट) हैं और भारत के अलावा योरोप और अमेरिका में शोध कर चुके हैं।
क्या सेहतवन में कोई मेडिकल डॉक्टर उपलब्ध रहता है?
नहीं, सेहतवन में कोई मेडिकल डॉक्टर उपलब्ध नहीं रहता है। पार्टीसिपेंट्स से अपेक्षित है कि वे अपने डॉक्टर से फोन पर संपर्क बनाए रहें। जिन्हें सतत मेडिकल निगरानी की जरूरत है उन्हें सेहतवन नहीं आना चाहिए।
यहाँ बीमारियों का इलाज़ कैसे किया जाता है?
सेहतवन में बीमारियों का इलाज़ नहीं किया जाता है, यहाँ सेहत को उभरा जाता है जिससे बीमारियाँ अपने आप गायब होने लगती हैं।
प्रक्रिया/ डेली रूटीन क्या है?
सेहतवन की प्रक्रिया अभी विकसित हो रही है। फिलहाल यह एक 3-स्टेप प्रोसेस है: 1. तनाव-मुक्तता, 2. विष-मुक्तता, 3. पुनर्नवन। पहले चरण में डि-स्ट्रेस किया जाता है, दूसरे मे डि-टोक्स और तीसरे चरण में बॉडी/माइंड को री-बूट लिया जाता है, नया किया जाता है। इसके लिए हम तीन टूल्स का इस्तेमाल करते हैं – कम्यूनिटी लिविंग, नेचर और ऑटोफैजी (उपवास)। रोज़मर्रा में हम जरूरत के हिसाब से विश्राम, श्रम, सन-बाथ और उपवास करते हैं।
क्या-क्या सुविधाएं हैं?
सेहतवन में सुविधाएं नाममात्र की हैं, हमारी कोशिश होती है कि जितनी कम सुविधा में हो सके रहा जाए। आइडिअली तो हम पूर्ण-प्राकृतिक वातावरण में रहना चाहते हैं, ऐसे वातावरण में जिसमें इंडस्ट्रियल/ बाज़ारू चीजों का उपयोग न हो। सेहतवन में रहने के लिए मिट्टी और बांस से बने मड-हाउस हैं और लेट्रिन के लिए कंपोस्टिंग-टॉइलेट हैं। किचिन में गैस चूल्हा है।

सेहतवन में कोई सर्वेट नहीँ है, सभी को अपने काम खुद करने होते हैं। जिन्हें बर्तन धोना और सफाई करना पसंद न हो उन्हें यहाँ नहीँ आना चाहिए।

क्या-क्या समान लेकर आना चाहिए हैं?
सेहतवन पहुँचने के लिए कभी कभी 1 km पैदल चलना पड़ जाता है इसलिए आपका समान इतना कम होना चाहिए जो आप खुद उठाकर 1 km चल सकें। कुछ चीजें जो लाना जरूरी हैं – बेड शीट्स (2), कंबल/ स्लीपिंग बैग (सर्दियों में), टॉर्च, छाता, दो जोड़ी ऐसे कपड़े जिनमें आप काम कर सकें और जिनके गंदे होने या फटने का आपको डर न हो। इसके अलावा आपको अपनी मेडिकल रिपोर्ट्स और दवाइयों भी साथ लनी चाहिए।
सेहतवन में क्या नहीं लाना हैं?
सेहतवन बहुत ही सादगीपूर्ण और पर्यावरण-मित्र जगह है, यहाँ निम्न समान लाने की मनाही है:
  1. महंगी ज्वेलरी और एलेट्रोनिक उपकरण
  2. प्लास्टिक की पन्नियाँ और डिस्पोजीबल समान
  3. पैकेज्ड फूड
  4. किसी भी तरह के नशे या धूम्रपान का सामान
  5. केमिकल्स आधारित साबुन, शैम्पू, टूथ-पेस्ट आदि प्रसाधन सामाग्री
सेहतवन पहुँचने के लिए पब्लिक ट्रांसपोर्ट?
भोपाल रेल्वे स्टेशन से – नादरा बस स्टेंड तक आयें(300m)। किसी भी विदिशा जाने वाली बस में बैठें और सूखी सेवानियां गाँव में उतरें। सूखी बस स्टैंड से आमोनी जाने वाले सवारी ऑटो में बैठें और घाटी के पास उतार जाएँ, ऑटो वाले से बोलें आपको आम खोह के पास जाना है।
रिफ़ंड पॉलिसी क्या है?
हम छोटे ग्रुप में लोगों के साथ काम करते हैं और इसलिए प्रतिभागियों का कैन्सल करना सेहतवन के निर्वाह को प्रभावित करता है। कैन्सल या तारीख बदलने के मामले में - 5000 / व्यक्ति छोड़कर शेष राशि बैंक अकाउंट में वापस कर दी जाती है। यदि आप प्रोग्राम में शामिल होने के बाद रद्द करते हैं (पहले 2 दिनों तक), तो भी यही लागू होता है।
क्या हम बच्चों को ला सकते हैं? उनकी राशि क्या होगी?

आमतौर पर, बच्चे सेहतवन में रहने का आनंद लेते हैं और प्रकृति के साथ बहुत कुछ सीखते हैं। लेकिन अगर वे शहरी सुविधाओं और बाजारू स्नैक्स की आदतन हैं तो उन्हें सेहतवन में एडस्ट होने में मुश्किल हो सकती है। कृपया बच्चों के लिए उपयुक्त मौसम के बारे में जानने के लिए हमें कॉल करें। इसके अलावा तब आना बेहतर है जब सेहतवन में अन्य बच्चे भी मौजूद हों।

10 वर्ष से कम उम्र के बच्चों के लिए योगदान राशि वयस्कों के लिए राशि का 50% है। कृपया ध्यान दें कि सेहतवन को बाल-सुलभ बनाने के लिए अतिरिक्त प्रयास लगता है। यहाँ के खाने में दूध शामिल नहीं है, अगर आप चाहें तो पास के गाँव जाकर ल सकते हैं (1 किमी)। जब किचन फ्री हो तो आप उनके मन पसंद खाना बना सकते हैं और सामान ल सकते हैं। हालांकि बाजारू स्नैक्स मना है।

आगामी कार्यक्रम को बुक करें